भारतीय किसान संघ की रैली को लेकर देशभर के किसानों में भारी उत्साह

undefinedनई दिल्ली, सितम्बर 13 : भारतीय किसान संघ की शुक्रवार 13 सितम्बर को रामलीला मैदान में प्रस्तावित किसान अधिकार रैली को लेकर देशभर के किसानों में भारी उत्साह है। बुधवार से किसानों के काफिलों के आने का सिलसिला जारी हैं। गुरूवार भोर से ही हजारों किसान रामलीला मैदान में आ चुके है। रामलीला मैदान के आसपास के क्षेत्र को किसान संघ कार्यकर्ताओं द्वारा किसान संघ के झंडों एवं बैनरों से ऐसा सजाया गया है कि मानों पूरा दिल्ली शहर ही किसान संघ के रंग में रंग गया हो।
उतर व दक्षिण भारत के विभिन्न राज्यों से भगवान बलराम व भारत माता की जय के नारों के साथ किसानों के हुजूम रामलीला मैदान में आ रहे है। गुरूवार सुबह तक हजारों किसान रामलीला मैदान में आ चुके है, शुक्रवार को किसानों का यह आंकड़ा लाखों में पंहुच सकता है। मैदान में किसान अधिकार रैली के लिए विशाल और भव्य मंच बनाया गया है।
किसान संघ के अखिल भारतीय संगठन मंत्री दिनेश दत्तात्रेय कुलकर्णी ने बताया कि कृषि उत्पाद के लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य देने, भूमि अधिग्रहण कानून को किसान हितैषी बनाने, जल का निजीकरण ना करने, बीज पर किसानों को अधिकार देने, सिंचाई जल नीति बनाने आदि मांगों को लेकर देशभर के किसान 13 सितम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में लाखों की संख्या में प्रदर्शन करेगें।
undefinedलाखों की संख्या में भारत के कोने-कोने से किसानों के इस प्रदर्शन में उमड़ने की संभावना को देखते हुए रामलीला मैदान में विशाल पाण्डल लगाने एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं के लिए कार्यकर्ता बुधवार को दिनभर जुटे रहे।
भारी संख्या में किसानों के आने की संभावना को देखते हुए किसान संघ द्वारा संगठन से सम्बधित साहित्य, पूछताछ केन्द्र, भोजनालय, आवश्यक सुविधाऐं आदि की तैयारियों को बुधवार को अंतिम रूप दिया गया। रैली में भाग लेने वाले देशभर के किसानों एवं किसान संघ कार्यकर्ताओं को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के नेतृत्व में गठित टीमों को जिम्मेवारियां सौंपी गई है।
बुधवार सायं भारतीय किसान संघ द्वारा रैली स्थल पर कृषि देवता भगवान बलराम जयंती मनाई गई जिसमें संघ के अखिल भारतीय मंत्री अम्बुभाई पटेल, पूर्णकालिक कार्यकर्ता प्रमुख रामाशीष, जुगलकिशोर आदि ने कार्यक्रम में उपस्थित सैंकड़ों कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए भगवान बलराम का जीवन परिचय दिया।
उल्लेखनीय है कि किसान संघ के इस विशाल कार्यक्रम में आने वाले सभी कार्यकर्ता अपना स्वयं का किराया खर्च वहन करके दिल्ली पधारे है।